Top
Our Blog – Page 122 – Kisan Suvidha
896
paged,page-template,page-template-blog-masonry,page-template-blog-masonry-php,page,page-id-896,paged-122,page-paged-122,theme-wellspring,mkdf-bmi-calculator-1.0,mkd-core-1.0,woocommerce-no-js,wellspring-ver-1.2.1,mkdf-smooth-scroll,mkdf-smooth-page-transitions,mkdf-ajax,mkdf-blog-installed,mkdf-header-standard,mkdf-sticky-header-on-scroll-down-up,mkdf-default-mobile-header,mkdf-sticky-up-mobile-header,mkdf-dropdown-slide-from-bottom,mkdf-search-dropdown,wpb-js-composer js-comp-ver-4.12,vc_responsive
11/06/2019

किसान भाईयों के लिए कृषि सम्बन्धी सलाह

आज की वैज्ञानिक सलाह – धान की फसल में किसान रोपड़ी लगाने की

21/09/2018

मटर की वैज्ञानिक खेती

मटर का प्रयोग हरी अवस्था में फलियों के रूप में सब्जी के लि

14/08/2018

सोयाबीन कृषको के लिए उपयोगी सलाह / Advisory for Soybean farmers (13-19 Aug 2018)

सोयाबीन कृषको के लिए उपयोगी सलाह / Advisory for Soybean farmers मौसम विभाग स

11/11/2017

Wheat diseases and their control

Major wheat diseases are:- 1.Wheat Leaf Rust /Brown Rust: Puccinia recondita Symptom: The postules are circular or slightly elliptical, smaller than

11/11/2017

गेहूं का पौध संरक्षण

गेहूं में पौध संरक्षण केसे करे ? गेहूं एक प्रमुख धान्य फसल

11/11/2017

Insect pests of Chickpea / Bengal Gram

Major pests of Chickpea are:- 1.Gram Pod Borer: Helicoverpa armigera Identification of the pest Eggs – are spherical in shape and creamy white in c

11/11/2017

Chickpea diseases and their control

Major Chickpea diseases are:- 1.Chickpea Alternaria blight: Alternaria alternata Symptom: The disease occurs during the flowering stage of the crop.

17/10/2017

चने की खेती-उत्तरप्रदेश

चना एक बहु उपयोगी दलहनी फसल है । चने में 21.1 प्रतिशत प्रटीन,

21/07/2017

Pea diseases and their Management

Major Pea diseases are given below:- 1.Fusarium wilt: Fusarium oxysporum f.sp. pisi Symptom: The first symptom of the disease in the field is droopin

सूरजधारा योजना

सूरजधारा योजना का लाभ किसे सूरजधारा योजना भी संपूर्ण मध्यप्रदेश में प्रचलित है | इसका उद्देश्य अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति...

अन्नपूर्णा योजना

योजना का लाभ किसे- योजना सम्पूर्ण मध्य प्रदेश में प्रचलित है| अनुसूचित जाती और अनुसूचित जनजाति के लघु एवं सीमान्त कृषक...

समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन एवं उर्वरकों का संतुलित व समन्वित उपयोग कार्यक्रम ( आई. एन. एम. )-मध्यप्रदेश

आई. एन. एम. योजना के प्रभावी रहने को समय सीमा : निरन्तर कार्यक्रम का उद्देश्य : समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन द्वारा...

Show Buttons
Hide Buttons