0
  • No products in the cart.
Top
शिमला मिर्च की उन्नत किस्म - Kisan Suvidha
5860
post-template-default,single,single-post,postid-5860,single-format-standard,theme-wellspring,mkdf-bmi-calculator-1.0,mkd-core-1.0,woocommerce-no-js,wellspring-ver-1.2.1,mkdf-smooth-scroll,mkdf-smooth-page-transitions,mkdf-ajax,mkdf-blog-installed,mkdf-header-standard,mkdf-sticky-header-on-scroll-down-up,mkdf-default-mobile-header,mkdf-sticky-up-mobile-header,mkdf-dropdown-slide-from-bottom,mkdf-search-dropdown,wpb-js-composer js-comp-ver-4.12,vc_responsive

शिमला मिर्च की उन्नत किस्म

शिमला मिर्च की किस्म

शिमला मिर्च की उन्नत किस्म

उन्नत किस्म

 

1.कैलिफोर्निया वंडर

विमोचन वर्षः  1975 (एस.वी.आर.सी., हिमाचल प्रदेश)

अनुमोदित क्षेत्रः  मध्य व ऊँचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों के लिए

औसत उपजः  180-200 कुन्तल/हेक्टेयर (सब्जी के लिए)

विशेषताएंः  इसका  पौधा  मध्यम  ऊँचाई  वाला,  फल  चमकीले हरे रंग के, 3-4 कोष्ठ वाले होते हैं। पहली तुड़ाई रोपण के 75 दिनों बाद।

 

 

शिमला मिर्च की संकर किस्म

 

1.पूसा दीप्ति

विमोचन वर्षः  1997 (एस.वी.आर.सी., हिमाचल प्रदेश)

अनुमोदित क्षेत्रः  उत्तरी भारत के शीतोष्ण व समोष्णीय क्षेत्र

औसत उपजः  300-350 कुन्तल प्रति हेक्टेयर (सब्जी के लिए)

विशेषताएंः  इसका पौधा मध्यम आकार का, झाड़ीनुमा, ओजपूर्ण व सीधा होता है। फल हल्के हरे रंग के, नुकीले, पकने पर गहरे लाल रंग के हो जाते हैं। यह रोपण के 70-75 दिनों में तैयार हो जाती है।

 

Source-

  • iari.res.in

 

No Comments

Sorry, the comment form is closed at this time.