0
  • No products in the cart.
Top
पौध सुरक्षा – Kisan Suvidha
5283
post-template-default,single,single-post,postid-5283,single-format-standard,theme-wellspring,mkdf-bmi-calculator-1.0,mkd-core-1.0,woocommerce-no-js,wellspring-ver-1.2.1,mkdf-smooth-scroll,mkdf-smooth-page-transitions,mkdf-ajax,mkdf-blog-installed,mkdf-header-standard,mkdf-sticky-header-on-scroll-down-up,mkdf-default-mobile-header,mkdf-sticky-up-mobile-header,mkdf-dropdown-slide-from-bottom,mkdf-search-dropdown,wpb-js-composer js-comp-ver-4.12,vc_responsive

पौध सुरक्षा

पौध सुरक्षा

क्या करें?

    • गर्मीके मौसम में खेतों की गहरी जुताई करें जिससे हानिकारक कीट व व्याधियां का नियंत्रण होता है।
    • फसलों की उपलब्ध प्रतिरोधी किस्मों आदि का चयन करें एवं फसल चक्र, अन्तः फसल, ट्रैप क्राप आदि विधियां अपनाकर कीट नियंत्रण करें।
    • लाइटट्रैप व चिपकने वाली ट्रैप का प्रयोग करें।
    • जैविकनियंत्रण के लिए परजीवी एवं कीट जीवों (मित्र कीट) का उपयोग करें।
    • कीटनियंत्रण के लिए सेक्स फीरोमोन ट्रैप, न्यूक्लियर पॉलीहाइड्रोसिस विषाणु (एनपीवी), स्यूडोमोनास और ट्राइकोग्राम आदि जैसे परजीवी कीट कार्ड का प्रयोग करें।
    • जैविक व नीम आधारित कीटनाशकों को प्रोत्साहित करें।
    • यदि ऊपर लिखे हुए उपाय जब कीट नियंत्रण ना कर सके तो ही रासायनिक कीटनाशकों का प्रयोग विशेषज्ञों की सिफारिश के अनुसार ही करें और निम्नलिखित सावधानियां बरतें –
    • रासायनिक कीटनाशकों का प्रयोग करते समय सुरक्षा के उपाय अपनायें।
    • कीटनाशकों का छिड़काव करते समय सुरक्षा के साधन जैसे मास्क, दस्तानें आदि का प्रयोग करें।
    • हमेशा छिड़काव हवा की दिशा में करें और अपने आप को छिड़काव से सुरक्षित रखें।
    • कीटनाशकों,पादप छिड़काव यंत्रों आदि को बच्चों और पालतू पशुओ की पहुंच से दूर, ताले में रखे|
    • कीटनाशक क्रय करते समय इनकी पैकिंग व वैधता की तारीख अवश्य देख लें।
    • कीटनाशक विशेष प्रभावित होने पर तुरन्त डाक्टर से सम्पर्क करें तथा कीटनाशक के डिब्बे व निर्देश|

 

सहायता

क्र.सं.

सहायता का प्रकार

सहायता का पैमाना/अधिकतम सीमा

स्कीम/घटक

1. किसानों के खेतों पर विभिन्न फसलों में समेकित कीट प्रबन्धन प्रदर्शन रू. 1000/- प्रति हैक्टर और अधिकतम 4 हेक्टेयर तक कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबंधन
2. बागवानी फसलों में समेकित कीट प्रबन्धन के लिए 4 हेक्टेयर प्रति लाभार्थी तक सीमित रू. 1000/- प्रति हेक्टेयर राष्ट्रीय बागवानी मिशन
3. कीटनाशकों एवं खरपतवार नाशी रसायनों की आपूर्ति के लिये 50 प्रतिशत कीमत अथवा रू. 500/- प्रति हेक्टेयर जो भी कम हो कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबंधन
4. धान की फसल में पादप रक्षा रसायनों व जैविक कीटनाशकों की आपूर्ति के लिए 50 प्रतिशत या रू. 500/- प्रति हेक्टेयर जो भी कम हो कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबंधन
5. दलहनों की खेती में-समेकित नाशकजीव नियंत्रण रसायनों, जैविक कीटनाशकों, फेरोमोन ट्रैप आदि की आपूर्ति के लिए 50 प्रतिशत या रू. 500/- प्रति हेक्टेयर जो भी कम हो कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबन्धन
6. जैव नियंत्रण एजेन्ट/जैविक कीटनाशकों की आपूर्ति 25 प्रतिशत या रू. 500/- जो भी कम हो कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबन्धन
7. बीजोपचार :

3. मानव चालित बीज

उपचार ड्रम

ब. बीज उपचार सामग्री

25 प्रतिशत या रू. 800/- की सब्सिडी जो भी कम हो

25 प्रतिशत या रू. 50/- की

सब्सिडी जो भी कम हो

कृषि राज्य कार्य योजना का वृहद प्रबन्धन

 

किससे संपर्क करें

निकटतम खण्ड विकास अधिकारी या कृषि विभाग या बागवानी इकाई जो भी सम्बन्धित हो, दिल्ली सरकार, दिल्ली।

 

Source-

  • Kisan Portal , Bharat Sarkar

No Comments

Sorry, the comment form is closed at this time.